fbpx

कालका से शिमला तक शीशे के छत वाली ट्रेन में बर्फ का नज़ारा कैसे लें?

शिमला जाने वाली विस्टाडोम कोच आपका इंतजार कर रही है, ऐसे प्लान कीजिए!

(Kalka to Shimla Glass Roof Train)

कालका से शिमला टॉय ट्रेन (Kalka to Shimla Toy Train) देश ही नहीं पूरी दुनिया में मशहूर है. इसीलिए तो इसका नाम यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर (World Heritage) में दर्ज किया गया है. 25 दिसंबर को कालका स्टेशन से पहली हिम दर्शन एक्सप्रेस (Him Darshan Express) की शुरुआत की गई जिसमें बैठ कर आप शीशे वाली छत और खिड़कियों से बाहर बर्फबारी और पहाड़ों के नज़ारे लेते हुए शिमला पहुंच सकते हैं.

Kalka to Shimla Train Up side view
हिम दर्शन एक्सप्रेस का एक दृश्य

 

पारदर्शी छत के नीचे बैठकर हिमाचल प्रदेश के अद्भुत पहाड़ों की यात्रा का लुत्फ उठाने के लिए सबसे पहले आपको कालका रेलवे स्टेशन पहुंचना पड़ेगा. इसके लिए आप चण्डीगढ़ से बस में लगभग 45 मिनट में पहुंच सकते हैं. कालका से सुबह 7 बजे निकलने वाली इस गाड़ी ‘हिम दर्शन एक्सप्रेस’ को एडवांस में बुक करना जरूरी है क्योंकि नए साल और क्रिसमस के चलते अभी कुछ दिनों तक ये गाड़ी लगभग बुक हो चुकी है.

Side view of Him Darshan Express
स्टेशन पर खड़ी हिम दर्शन एक्सप्रेस गाड़ी

हस गाड़ी में दो श्रेणी की टिकट मौजूद है, एक चेयर कार जिसकी टिकट की कीमत है 270 रुपये और दूसरी है एक्सीक्यूटिव क्लास जिसकी कीमत है 630 रुपये. अभी केवल 630 वाली टिकट ही मौजूद है लेकिन आने वाले दिनों में 270 वाली टिकट भी मिलना शुरु हो जाएगी.

 

दिसंबर से लेकर जनवरी तक शिमला में बर्फबारी का मौसम बना रहता है, तो अगर इस गाड़ी का असल मजा उठाना है तो यही दो महीने सबसे सही रहेंगे. इस ट्रेन की बोगी को विस्टाडोम कोच का नाम दिया गया है. इससे पहले भी इस रूट पर इस तरह के कई एडवेंचर प्रयोग किए गए हैं लेकिन आम लोगों के लिए इस “Him Darshan Express” से बढ़िया सवारी का और कोई मौका नहीं हो सकता.

 

यह गाड़ी कालका से लेकर शिमला तक की दूरी तय करने में लगभग 6 घंटे का समय लेगी जिसकी कुल दूरा 95 है. ध्यान रहे कि कालका-शिमला रेलवे मार्ग में 103 टनल और 700 से ज्यादा छोटे बड़े पुल हैं, जिनसे होकर ये गाड़ी गुजरेगी. शीशे के अंदर से बैठकर वादियों को नज़दीक से निहारने का सरकार की तरफ से ये पहला ही अवसर होगा.

Train at Barog Tunnel
कालका-शिमला रेल लाइन की सबसे बड़ी सुरंग (बड़ोग टनल)

 

देश के कई हिस्सों में ऐसी विस्टाडोम गाड़ी पहले भी चल रही हैं लेकिन ये आम लोगों की जानकारी में नहीं आ पाती. भारतीय रेलवे द्वारा शिमला जाने वाले सैलानियों के लिए चलाई गई ये सेवा निश्चित ही सफल साबित होगी. क्योंकि वर्तमान में चलने वाली साधारण रेलगाड़ियों की हालत काफी खराब है लेकिन फिर भी टॉय ट्रेन का लुत्फ उठाने के लिए हजारों की सँख्या में सैलानी इस रूट पर यात्रा करते हैं. तो इस रोमांचक ट्रेन के शुरू हो जाने के बाद ये संभव है कि यात्रियों की सँख्या में बढ़ौतरी होगी.

बगैर किसी इंतजार के आप कालका शिमला ट्रेन बुक कीजिए और पहाड़ों की सैर का आनंद उठाइए.

तो आप इस ट्रेन का मजा उठाने कब जा रहे हैं?

फेसबुक पर बताएं

Leave a Comment